Bhulekh उत्तर प्रदेश 2022: भूलेख यू पी Khatra Khatauni upbhulekh gov in

Bhulekh उत्तर प्रदेश | भूलेख खतौनी उत्तर प्रदेश 2022 | khatra khatauni | भूलेख यू पी | upbhulekh gov in | यू पी भूलेख | खसरा खतौनी

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते होंगे कि हर राज्य की राज्य सरकार और केंद्र सरकार की यही कोशिश रह रही है कि सारे कामों को ऑनलाइन कराया जाए ताकि सारे काम लोग घर बैठे ही करें और उनके समय के साथ-साथ पैसे की भी बचत हो। इसी प्रयास को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने भी एक फैसला लिया है और इस योजना को शुरू किया है। इस योजना का नाम भूलेख खतौनी उत्तर प्रदेश 2022 है। अगर कोई व्यक्ति अपने जमीन जायदाद का ब्यौरा ऑनलाइन लेना चाहता है तो इस योजना के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी से प्राप्त कर सकता है कि उसकी जमीन कितनी है और कहां पर है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको और भी कई जानकारी इस योजना से संबंधित देंगे जो आपको जानना बेहद जरूरी है। अगर आप इस योजना के बारे में और इससे संबंधित सारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ते रहिए।

उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी क्या है

दोस्तों अब आपके मन में यह सवाल जरूर उठ रहा होगा कि उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी क्या है। तो हम आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी एक नई योजना है जो कि उत्तर प्रदेश के द्वारा शुरू की गई है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लांच किए गए इस पोर्टल के माध्यम से यूपी के सारे नागरिक अपने जमीन जायदाद का ब्यौरा आसानी से देख सकते हैं। आज से कुछ दिन पहले अगर किसी को अपनी जमीन तथा जायदाद का ब्योरा लेना था तो उन्हें सरकारी दफ्तरों में जाना पड़ता था लेकिन अब आपको अपनी जमीन जायदाद की बेवरा लेनी है तो आपको किसी भी सरकारी दफ्तर के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे बल्कि आप इस योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर घर बैठे और बहुत ही आसानी से अपनी जमीन जायदाद के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इससे आपका समय भी बचेगा और आपके पैसे भी नहीं खर्च होंगे आप बिल्कुल फ्री में इसका ऑफिशियल वेबसाइट से आपने जमीन जायदाद का ब्यौरा ले सकते हैं। उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इसका ऑफिशियल वेबसाइट पर पूरे जमीन की जानकारी कंप्यूटराइज कर दी गई है। जो भी इन जानकारी को स्वच्छ करता है तो उसके सामने यह सारी जानकारी आ जाएगी। हम आपको बता दें कि अगर आप अपने जमीन की नक्शा खसरा आदि जानना चाहते हैं तो भी आप इस वेबसाइट के माध्यम से आसानी से जान सकते हैं।

UP Bhulekh- upbhulekh.gov.in Khatoni

दोस्तों अगर आप की जमीन पर किसी दूसरे ने अपना हक जमा कर रखा है और वह आपसे यह कर रहा है कि वह जमीन उसकी है तो आप इस वेबसाइट पर जाकर अपने जमीन होने का प्रूफ निकाल सकते हैं और उस जमीन पर अपना मालिकाना हक जमा सकते हैं। क्योंकि इस वेबसाइट पर सभी जानकारी बिल्कुल सही सही दी गई है ताकि लोगों को जानकारी प्राप्त करने में किसी भी तरह की कोई दिक्कत ना हो। आज से कुछ दिन पहले तक लोगों को अपने जमीन का खसरा या फिर नक्शा निकलवाने के लिए बहुत दौड़ना पड़ता था और कई दिनों तक लगातार सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने पड़ते थे। लेकिन अब उत्तर प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश में इस पोर्टल को लॉन्च कर दिया है जिसके माध्यम से सभी यूपी निवासी घर बैठे ही अपने जमीन के बारे में किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। अगर कोई चाहे कि वह घर बैठे अपने जमीन की नक्शा के साथ-साथ खसरा नंबर भी निकाल ले तो वह आसानी से निकाल सकता है।

भू अभिलेखों का कंप्यूटरीकरण

दोस्तों आप सभी जान रहे हैं कि केंद्र सरकार यानी कि हमारे मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा डिजिटल इंडिया बनाने के लिए लगातार प्रयास चल रहे हैं। इसी प्रयास में यूपी की सरकार भी अपना हाथ आगे बढ़ाते हुए यू पी भूलेख पोर्टल को लॉन्च किया है। इस पोर्टल के अंतर्गत यूपी के सारे जमीन जायदाद खसरा आदि की कंप्यूटरिंग की गई थी। यानी कि भू अभिलेखों का कंप्यूटरीकरण किया गया था। इस पोर्टल को यूपी के सभी तहसीलों में लागू कर दिया गया था और यूपी के सभी जिलों के नागरिक बहुत ही आसानी से अपने किसी भी जमीन जायदाद के बारे में इस पोर्टल के माध्यम से पता कर सकते हैं। इस पोर्टल में प्रतिदिन की भू अभिलेखों में बदलते मालिक का नाम या फिर बदलते जमीन को दर्शाया जाता है। इस बात को अगर हम आसान भाषा में समझे तो अगर कोई अपनी जमीन किसी और को भेजता है तो यह जानकारी तुरंत ही इस पोर्टल में दर्ज कर दी जाती है और पुराने मालिक के नाम को हटाकर नए मालिक का नाम भी दर्ज कर दिया जाता है।

यूपी भूलेख पोर्टल का क्या उद्देश्य है

दोस्तों अब आपके मन में यह सवाल जरूर उठ रहा होगा कि bhulekh उत्तर प्रदेश के नए पोर्टल upbhulekh gov in के पीछे आखिर उत्तर प्रदेश सरकार की क्या उद्देश्य है। यू पी भूलेख पोर्टल से उत्तर प्रदेश सरकार का मुख्य उद्देश्य यही है कि उत्तर प्रदेश के सभी निवासियों को आसानी से उनके जमीन के बारे में जानकारी उनको प्रदान हो जाए। जैसे कि आप सभी जानते हैं कि आज से कुछ दिन पहले अगर किसी को अपनी जमीन जायदाद है फिर खसरा संख्या की जानकारी लेनी होती थी तो उसे सरकारी दफ्तरों के लगातार कई दिनों तक चक्कर काटने पड़ते थे।

इसी वजह से यूपी सरकार ने यह पोर्टल लांच किया है ताकि किसी भी यूपी नागरिक को अपनी जमीन जायदाद के बारे में जानकारी लेने के लिए सरकारी दफ्तरों में चक्कर न काटना पड़े और उसका समय पैसा दोनों बर्बाद ना हो। इसलिए यू पी भूलेख पोर्टल को लांच किया गया। ताकि यूपी के सभी नागरिक घर बैठे ही ऑनलाइन यू पी भूलेख पोर्टल के माध्यम से अपने किसी भी जमीन जायदाद के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त कर सके। इससे यूपी के नागरिकों को यह भी फायदा होगा कि उनको बहुत ही जल्दी अपने जमीन जायदाद और खसरा संख्या के बारे में पता चल जाएगा और साथ ही उनका समय भी बर्बाद नहीं होगा। समय के साथ-साथ उनका पैसा भी बचेगा और वह इन पैसों का और बचे समय का उपयोग और भी कहीं कर पाएंगे।

उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल से आम जनता को क्या लाभ है

दोस्तों हमने आपको ऊपर बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार का इस पोर्टल के पीछे का क्या उद्देश्य है अब आपके मन में या सवाल उठ रहा होगा कि इस पोर्टल के माध्यम से आम जनता को क्या लाभ है। अगर आप क्या जानना चाहते हैं कि आम जनता को इस पोर्टल से क्या लाभ है तो चली हम आपको नीचे बताते हैं कि यूपी के आम जनता को इस पोर्टल से क्या-क्या लाभ है।

  • उत्तर प्रदेश की भूलेख पोर्टल के माध्यम से यूपी के नागरिक को यह फायदा है कि इस ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर सिर्फ अपना खसरा नंबर और जमाबंदी नंबर डालकर अपने जमीन जायदाद का ब्यौरा ले सकते हैं।
  • अब आपको पहले की तरह सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे बल्कि आप जब भी अपने जमीन ज्यादा के बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो आप इसके ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर ले सकते हैं।
  • इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से यूपी के लोग अपने घर बैठे ही ऑनलाइन अपने जमीन जायदाद के बारे में जानकारी प्राप्त कर पाएंगे जिससे उनकी समय की भी काफी बचत होगी।
  • अगर यूपी का कोई नागरिक अपने जमीन जायदाद के बारे में जानकारी लेने के लिए सरकारी दफ्तरों में जाते थे तो उनके जरूर कुछ ना कुछ पैसे खर्च होते होंगे लेकिन अब आप घर बैठे ऑनलाइन ही अपने जमीन के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं तो आपके पैसों की भी बचत होगी।

यूपी भूलेख पोर्टल के माध्यम से जमाबंदी नक़ल खसरा खतौनी कैसे देखे

अगर कोई भी यूपी का नागरिक इस पोर्टल के माध्यम से अपनी जमीन ज्यादा के बारे में जानकारी लेना चाहता है तो चलिए हम आपको नीचे इस आर्टिकल में कुछ टिप्स बताते हैं जिसके माध्यम से आप बहुत ही आसानी से इस पोर्टल के जरिए अपनी जमीन जायदाद के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

  • अगर आप इस पोर्टल का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन में क्रोम ब्राउज़र को खोल लेना है।
  • क्रोम ब्राउज़र को खोलने के बाद आपको उसके सर्च बॉक्स में यू पी भूलेख पोर्टल लिखकर सर्च करना है।
  • आप जैसे ही उसके सर्च बॉक्स में यूपी भूलेख पोर्टल लिखकर सर्च करेंगे तो आपके सामने कई सारी वेबसाइट दिखेंगी। आपको उन में से सबसे पहले वाले वेबसाइट पर क्लिक कर देना है। क्योंकि पहले वाला वेबसाइट ही इस पोस्टल का ऑफिशियल वेबसाइट है।
  • आप जैसे ही इसके ऑफिशियल वेबसाइट पर क्लिक करके उसे ओपन करेंगे तो आपके सामने कई सारी सूची का विकल्प पर दिखाई देगा।
  • अगर आप चाहते हैं कि आप खसरा खतौनी की नकल देखे तो आपको बस उस सूची में से खसरा खतौनी के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • आप जैसे ही खसरा खतौनी के ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा। इस पेज पर आपसे कैप्चा कोड दर्ज करने के लिए कहा जाएगा और नीचे कैप्चा कोड दिया रहेगा।
  • आपको कैप्चा कोड सही-सही भर कर नीचे सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना।
  • जैसे ही आप सबमिट के विकल्प पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपके सामने एक और नया पेज खुल जाएगा और वहां पर आपसे आपकी कुछ पर्सनल जानकारी मांगी जाएगी जैसे कि आपका नाम आपके जमीन की खसरा संख्या आदी।
  • इस पेज में मांगी गई सारी जानकारी को आपको सही-सही भर देना है। क्योंकि अगर आप एक भी जानकारी गलत भरते हैं तो आप अपने जमीन के बारे में अच्छी तरह से जानकारी नहीं ले पाएंगे। इसलिए सारी जानकारी सही-सही भागने के बाद आपको नीचे सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपके द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आपके जमीन की जानकारी आपके सामने खुल जाएगी।

उत्तर प्रदेश का भू नक्शा ऑनलाइन कैसे देखा जाता है

अगर आप उत्तर प्रदेश के किसी भी जिले और किसी भी तहसील का भू नक्शा देखना चाहते हैं तो आप इसका ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं। तो अगर आप अपने जिला के तहसील का भू नक्शा देखना चाहते हैं तो चलिए हम आपको नीचे कुछ टिप्स बताते हैं जिसके माध्यम से आपको अपने क्षेत्र के भु नक्शे को देखने में मदद मिलेगा।

  • अगर आप उत्तर प्रदेश का भू नक्शा ऑनलाइन देखना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन में या फिर आप जिस भी डिवाइस में भू नक्शा देखना चाहते हैं उस डिवाइस में क्रोम ब्राउज़र को ओपन कर ले अगर आप चाहे तो और भी किसी ब्राउज़र को ओपन कर सकते हैं।
  • क्रोम ब्राउज़र को ओपन करने के बाद आपको उसके सर्च बॉक्स में यू पी भूलेख लिखकर सर्च करना है।
  • आप जैसे ही क्रोम ब्राउज़र में यू पी भूलेख लिखकर सर्च करेंगे वैसे ही आपके सामने कई सारी वेबसाइट दिखने लगेंगे। आपको उन सभी वेबसाइट में से सबसे पहले वाले वेबसाइट पर क्लिक करना होगा क्योंकि सबसे पहले वाला वेबसाइट ही यू पी भूलेख का ऑफिशियल वेबसाइट है।
  • आप जैसे हैं इसके ऑफिशल वेबसाइट को ओपन करेंगे तो आपके सामने इसके ऑफिशल वेबसाइट की होम पेज खुल जाएगी। 
  • जैसे ही आपके सामने होम पेज खुलेगा आपको अपने जिला, तहसील गांव आदि का चुनाव कर लेना है। जैसे ही आप इन सभी चीजों का चुनाव करके सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करते हैं तो आपके सामने उस क्षेत्र का नक्शा दिखाई देने लगेगा जिस क्षेत्र का अपने चुनाव किया है।
  • अगर आप अपने खाता धारी का नाम देखना चाहते हैं तो आप फार्म नंबर पर क्लिक करके अपने खाता धारी का नाम बहुत ही आसानी से देख सकते हैं।
  • आप जैसे ही खाता धारी का नाम देखने के लिए फार्म नंबर के ऑप्शन पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपके सामने खाता संख्या दिखाई देने लगेगा। अब आपको खाता संख्या के अनुसार खाता धारी का नाम चयन कर लेना है।
  • अगर आप चाहते हैं कि आप अपने भूमि के नक्शे का प्रिंट आउट निकाल ले तो आप नीचे प्रिंट के ऑप्शन पर क्लिक करके इसका प्रिंटआउट बहुत ही आसानी से निकाल सकते हैं।

यूपी भूलेख पोर्टल लोगिन करने की प्रक्रिया क्या है

अगर आप यू पी भूलेख पोर्टल लोगिन करने की प्रक्रिया जानना चाहते हैं तो चलिए हम आपको नीचे इस आर्टिकल में बहुत ही बढ़िया से स्टेप बाय स्टेप बताते हैं बताते हैं कि आप यू पी भूलेख पोर्टल में बहुत ही आसानी से लॉगिन कैसे कर पाएंगे। अगर आप हमारे द्वारा बताए गए स्टेट्स को फॉलो करेंगे तो आपको इसका ऑफिशल वेबसाइट पर लॉगइन करने में किसी प्रकार का दिक्कत नहीं होगा।

  • सबसे पहले आपको तो उस डिवाइस में क्रोम ब्राउजर को ओपन कर लेना है जिस डिवाइस में आप यूपी भूलेख पोर्टल लॉगइन करना चाहते हैं। अगर आप अपने स्मार्टफोन में यूपी भूलेख पोर्टल लॉगइन करना चाहते हैं तो आप अपने स्मार्टफोन में क्रोम ब्राउजर को ओपन कर ले। अगर आप लैपटॉप में यू पी भूलेख पोर्टल लॉगइन करना चाहते हैं तो आप अपने लैपटॉप में क्रोम ब्राउज़र ओपन कर ले।
  • क्रोम ब्राउज़र को आप जैसे ही ओपन करेंगे तो ऊपर आपको सर्च बॉक्स मिल जाएगा। आपको उस सर्च बॉक्स में राजस्व परिषद उत्तर प्रदेश लिखकर सर्च करना है।
  • आप जैसे ही राजस्व परिषद उत्तर प्रदेश लिखकर क्रोम ब्राउजर में सर्च करेंगे तो आपके सामने कई सारी वेबसाइट आ जाएंगे। लेकिन आपको उनमें से सबसे पहली वाली वेबसाइट पर जाना है और उससे खोल लेना है क्योंकि सबसे पहले वाली वेबसाइट ही राजस्व परिषद उत्तर प्रदेश की ऑफिशियल वेबसाइट है।
  • आप जैसे ही इसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएंगे तो आपके सामने इसके ऑफिशल वेबसाइट की होम पेज खुल कर आ जाएगी।
  • इस के होम पेज पर आपको एक लॉगइन का विकल्प मिल जाएगा आपको इस लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • आप जैसे ही लॉगइन के ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा और आपसे आपके बारे में कुछ पर्सनल जानकारी मांगी जाएगी। वहां पर आप से मांग की गई सारी जानकारी आपको बिल्कुल सही सही दे देनी है क्योंकि अगर आप एक भी जानकारी गलत भरते हैं तो आप लॉग इन नहीं कर पाएंगे।
  • सारी जानकारी सही-सही भरने के बाद आपको नीचे सबमिट का एक ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा और वहां पर आपसे आपका यूजर नेम और पासवर्ड मांगा जाएगा। इसके अलावा आपसे कैप्चा कोड दर्ज करने के लिए भी कहा जाएगा। आपको यूजरनेम पासवर्ड भरने के साथ-साथ कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।

आप लॉगइन के ऑप्शन पर जैसे ही क्लिक करेंगे वैसे ही आप इसके ऑफिशल वेबसाइट में लॉग इन करने में सक्षम हो जाएंगे और आप अपना काम कर पाएंगे।

निष्कर्ष

दोस्तों हमने आज के इस आर्टिकल में आपको उत्तर प्रदेश की एक नई योजना यूपी भूलेख पोर्टल के बारे में लगभग पूरी जानकारी प्रदान कर दी है। उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा और यूपी भूलेख पोर्टल के बारे में हमने आपको जो जो भी जानकारी दी होगी आपको अच्छे से समझ में आ गई होगी। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा तो आप इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों के पास जरूर शेयर करें।

और पढ़ें:

होम पेज

Leave a comment