Bihar Apna Khata: Bihar Bhumi Jankari, Bhulekh Bihar & Land Record

Apna Khata Bihar | Bihar bhumi jankari | Bhulekh Bihar | Bihar land record | land record Bihar | जमाबंदी बिहार सरकार | खाता खेसरा बिहार

दोस्तों आपको तो इस बात की जानकारी जरूर होगी कि आजकल लगभग सभी काम ऑनलाइन किए जा रहे हैं और ज्यादातर ऑनलाइन कामों पर भरोसा भी जताया जा रहा है। इसी को देखते हुए केंद्र सरकार और कई राज्य सरकार ने मिलकर यह फैसला लिया है कि अब ऑनलाइन ही खाता खेसरा आदि की जांच की जाएगी। यानी अगर किसी को अपनी जमीन जायदाद के बारे में जानकारी प्राप्त करनी है तो उसको किसी सरकारी दफ्तर में नहीं बल्कि ऑनलाइन सेंटर पर जाना होगा या फिर अपने घर में ही वह देख सकता है कि उसकी कितनी जमीन है और कहां कहां है। इसको देखते हुए बिहार सरकार के तरफ से भी अपना खाता नाम का एक पोर्टल लांच किया गया है। जिसके माध्यम से आप अपने जमीन जायदाद की स्थिति को अच्छे से देख सकते हैं। अगर आप इसके बारे में जानते हैं तो ठीक है लेकिन अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं तो आइए इसके बारे में हम पूरी जानकारी आपको देते हैं।

बिहार भूमि भूलेख / Bihar Bhumi Jankari

राज्य सरकार की तरफ से जो Apna Khata पोर्टल लांच किया गया है इसके माध्यम से बिहार का कोई भी सदस्य चाहे वह छोटा हो या फिर बड़ा अपने जमीन जायदाद की जांच परख कर सकता है। अगर आसान भाषा में समझे तो अपना खाता पोर्टल एक ऐसा माध्यम है जिसके माध्यम से हम अपने घर में ही बैठे बैठे अपने जमीन जायदाद की पता लगा सकते हैं और उसका ब्यौरा दर्ज कर सकते हैं। यह सारी जानकारी अपना खाता पोर्टल पर लिखित रूप से दर्ज की गई है। अगर आप ऐसा सोच रहे हैं कि अपना खाता पोर्टल पर जो जानकारी दी गई है उसका मान्य कहीं नहीं है तो आप बिल्कुल गलत है अगर आप कहीं जा रहे हैं और आपसे आपके जमीन के बारे में ब्यौरा मांगा जाए तो आप बेझिझक होकर अपना खाता पोर्टल से अपनी जमीन की व्यवस्था लेकर दे सकते हैं। सरकार ने इसे सभी जगहों पर मान कर दिया है क्योंकि यह सभी के जमीन का सही सही ब्यौरा देता है।

अगर बिहार राज्य का कोई भी व्यक्ति अपना खाता पोर्टल के बारे में अधिक जानकारी लेना चाहता है और इसके बारे में और भी ज्यादा विस्तार से जाना चाहता है तो इसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जा सकता है हालांकि हम भी नीचे इसके बारे में आपको सारी जानकारी देंगे। इसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपको वहां पर कई तरह की सुविधाओं को देखने को मिलेगा आपको उस में से किसी एक का चयन कर लेना है। चयन करने के बाद उसके बारे में जितनी भी जानकारी है वह सब आपके सामने आ जाएंगे। अगर आप लोन लेना चाहते हैं और आपके पास आपके डॉक्यूमेंट नहीं है तो आप अपने डॉक्यूमेंट को बिहार अपना खाता पोर्टल से निकाल सकते हैं और इसके जरिए आसानी से लोन ले सकते हैं। मैंने यह बात आपको इसलिए बताई ताकि आपको इसके बारे में जानकारी हो जाएगी आप इससे पोर्टल से निकाले गए जानकारी से और जमीन जायदाद के निकाले गए ब्योरे से लोन भी ले सकते हैं।

Bihar Land Records

आपको याद होगा कि आज से कुछ दिन पहले अगर कोई व्यक्ति अपने जमीन का खाता खेसरा निकालना चाहता था तो उससे कई कई दिनों तक तहसीलदार के चक्कर काटने पड़ते थे। लेकिन अब भी कुछ भी ऐसा नहीं है अब आपको तहसीलदार के चक्कर काटने की जरूरत नहीं है। अब आप अपने घर बैठे बैठे ही अपने सारे जमीन जायदाद का ब्यौरा ले सकते हैं। बिहार लैंड रिकॉर्ड के माध्यम से जिस आदमी का जमीन है उसका नाम, क्षेत्रफल ,खाता, संख्या,भूमि वर्गीकरण ,तहसील ,गांव ,पट्टेदार के साथ-साथ वह सभी जानकारी दी हुई रहती है जो कि एक भूमि के मालिक होने के लिए अनिवार्य है।

इस रिकॉर्ड के तहत अगर आपके जमीन पर कोई दूसरा कब्जा कर कर बैठा है तो उस पर केस कर सकते हैं या फिर अपने जमीन को आप अपने कब्जे में आसानी से कर सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि अगर आप सोच रहे हैं कि आप इस रिकॉर्ड का गलत फायदा उठा सकते हैं तो यह बिल्कुल सही नहीं है क्योंकि इससे रिकॉर्ड में सारे चीज बिल्कुल सही सही दर्ज किए गए हैं और आप इसमें छेड़छाड़ नहीं कर सकते हैं। अगर आप इसके माध्यम से किसी को बेवकूफ बनाने की कोशिश करते हैं या फिर किसी से जमीन हड़पने की कोशिश करते हैं तो इस केस में आपको भारी से भारी सजा हो सकती है।

Bihar Apna Khata Online Portal के लाभ

हमने आपको ऊपर आर्टिकल के माध्यम से यह तो बता दिया कि बिहार अपना खाता ऑनलाइन पोर्टल क्या है और आप इसके माध्यम से क्या-क्या कर सकते हैं अब हम आपको यह बता‌ रहे हैं कि आखिर बिहार अपना खाता ऑनलाइन पोर्टल से आपको क्या क्या लाभ है। क्योंकि अगर किसी काम में लाभ नहीं रहता है तो वह काम कोई भी करना पसंद नहीं करता है तो आइए हम बताते हैं कि आपको बिहार अपना खाता ऑनलाइन पोर्टल से क्या-क्या लाभ है और आप इसका इस्तेमाल कर किस किस लाभ का आनंद उठा सकते हैं।

हम आपको बता दें कि इस ऑनलाइन पोर्टल से अगर सबसे ज्यादा किसी को कोई लाभ है तो वह यह लाभ है कि अब आपको तहसीलदारों का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा और आप अपने घर बैठे अपने सभी जमीन जायदाद का ब्यौरा ले सकेंगे। इसके साथ ही अगर आप जा रहे हैं कि आप अपने घर का या फिर अपने जमीन के किसी कोने का नक्शा या भी अपने पूरे जायदाद का नक्शा निकालें तो वह भी इसके जरिए प्रिंट कर सकते हैं। यानी कि अगर आप अपने जमीन का नक्शा निकलवाना चाहते हैं तो अब आपको तहसीलदार के पास नहीं जाना पड़ेगा बल्कि आप खुद ही खान पर प्रिंट करके निकाल सकते हैं।

  • अगर आप इस ऑनलाइन पोर्टल का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको अपने खेसरा नंबर को देखकर अपने सारे जमीन जायदाद का ब्यौरा ले सकते हैं।
  • इस योजना से एक और फायदा है कि इससे सरकारी कर्मचारी और आम आदमी दोनों की समय की बचत होगी और सभी लोग इस समय का सदुपयोग कर और किसी काम को कर पाएंगे। साथ ही लोगों को तहसीलदार और पटवारखाने के चक्कर भी नहीं काटने पड़ेंगे।
  • अब आप सोच रहे होंगे कि इस सुविधा का लाभ कौन-कौन उठा सकते हैं तो हम आपको बता दें कि पूरे बिहार राज्य में जिस भी व्यक्ति के नाम पर जमीन है वह सारे व्यक्ति इस योजना का लाभ उठा सकते हैं और घर बैठे अपने सारे जमीन जायदाद का ब्यौरा जब मन करे तब ले सकते हैं।

Bihar Apna Khata ( जमाबंदी, खसरा संख्या Land Records) की जांच कैसे करे? 

हमने आपको इस आर्टिकल में ऊपर यह बताया कि बिहार अपना खाता क्या है और इस खाते से आपको क्या-क्या लाभ है तो अब आप यह सोच रहे होंगे कि हम इसका उपयोग कैसे कर सकते हैं और अपने जमीन के बारे में कैसे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप पहले से जाग रहे हैं कि इसके बारे में कैसे जानकारी प्राप्त किया जाता है तब तो ठीक है लेकिन अगर आप नहीं जा रहे हैं तो हमारे साथ इस आर्टिकल में बने रहिए हम आपको नीचे वाले पैराग्राफ में बता रहे हैं कि आप पर इस खाता के माध्यम से कैसे अपने जमीन जायदाद के बारे में पता लगा सकते हैं।

  • अगर आप इसके माध्यम से अपने जमाबंदी खसरा संख्या प्राप्त करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको इसके ऑफिशल वेबसाइट पर जाना है। आप जैसे हैं इसके ऑफिशल वेबसाइट पर जाएंगे तो आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको एक नक्शा दिखाई देगा और उस नक्शे में आपको कई सारे जिले और शहर के नाम दिखाई देगा आप जिस भी जिला में रहते हैं या फिर जिस भी शहर में रहते हैं उसका चयन कर ले। उसके बाद आपका अंचल चुनने का विकल्प दिखाई देगा आपको अपना अंचल चयन कर लेना है।
  • जैसे ही आप अपना आंचल का चयन करेंगे तो आपके सामने मोजो का विकल्प चयन करने का ऑप्शन मिलेगा। आप को उनमें से अपने मोज चैन कर लेना। अगर आप मोज को जल्द से जल्द ढूंढना चाहते हैं तो सर्च के ऑप्शन पर क्लिक करके सर्च भी कर सकते हैं।
  • उसके बात खाता धारी का नाम देखें कि किसके नाम पर पूरी जमीन जायदाद है।
  • सभी जानकारी देने के बाद वहां पर आपको खाता खोजें का एक ऑप्शन मिलेगा उस पर क्लिक कर देना है। वहां पर आपको आपके खाता खेसरा का नंबर दिख जाएगा और वहां पर आपको एक और ऑप्शन मिलेगा अधिकार अभिलेख उस पर क्लिक कर देना है।
  • उसके बाद आप जिस जमीन के खाता खेसरा नंबर जांच करना चाहते हैं उस जमीन की खाता खेसरा संख्या की जांच कर सकते हैं और उसका प्रिंट आउट भी निकाल सकते हैं।

जमाबंदी पंजी खेसरा वार विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले तो आपको अपने गूगल क्रोम को ओपन कर लेना है और उसमें बिहार अपना खाता की ऑफिशियल वेबसाइट को सर्च करके उस पर चले जाना है।
  • आप जैसे ही उस वेबसाइट पर जाएंगे तो आपके सामने उस वेबसाइट की होम पेज खुल जाएगी।
  • होम पेज पर आपको जमाबंदी पंजी देखें का एक लिंक मिलेगा आपको उस लिंक पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुला मिलेगा जिस पर आपसे आपकी कुछ पर्सनल जानकारी मांगी जाएंगी जैसे कि अपने जिले, आंचल नाम, हल्का नाम, मैजा नाम, खाता नंबर तथा खसरा संख्या। आपको यह सभी जानकारी दे देना है और आगे बढ़ना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक रजिस्टर 2 का ऑप्शन मिलेगा आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • आप जैसे ही उस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने आपका पूरा विवरण खुल जाएगा।

बिहार भूलेख खसरा-खतौनी नकल ऑनलाइन देखें

अगर आप बिहार भूलेख खसरा खतौनी की नकल ऑनलाइन देखना चाहते हैं और अपने जमीन जायदाद के बारे में जानकारी लेना चाहते हैं कि आपका जमीन कितना है और कहां-कहां है तो हम आपको नीचे कुछ ऐसे स्टेप्स बताने वाले हैं जिसके माध्यम से आप बेहद ही आसानी से बिहार भूलेख खसरा खतौनी का नकल ऑनलाइन देख सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको बिहार भूलेख खसरा खतौनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है। आप जैसे ही इस के ऑफिशियल वेबसाइट को ओपन करेंगे तो आपके सामने इस वेबसाइट के होमपेज खुली दिखेगी।
  • जैसे ही आपके सामने होम पेज खुलेगा तो आपके सामने जमाबंदी पंजी देखे का विकल्प मिलेगा आपको इस विकल्प पर क्लिक कर देना। आप जैसे ही इस विकल्प पर क्लिक करेंगे तो आगे का बीज आपके सामने ओपन हो जाएगा।
  • जैसे ही आपके सामने अगली पेज खुलेगी तो आपसे आपकी पर्सनल जानकारी जैसे कि हल्का नंबर ,मोजा नंबर आदि मांगी जाएंगी। आपको यह सभी जानकारी सही-सही भर देना है और सर्च के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • आप जैसे ही सज के बटन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने बिहार भूलेख खसरा-खतौनी की  नकल आ जाएगी
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से आप बिहार भूलेख खसरा खतौनी की नकल को बिल्कुल आसानी से ऑनलाइन देख सकते हैं। और पता लगा सकते हैं कि आप की जमीन कहां पर है और कितनी है।

जमाबंदी पंजी देखने की प्रक्रिया

 चलिए अब हम आपको कुछ आसान से स्टेप्स बताते हैं जिसके माध्यम से आप जमाबंदी पंजी को आसानी से ऑनलाइन देख पाएंगे और घर बैठे हैं इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर पाएंगे।

  • सबसे पहले आपको करना यह है कि आपको अपने स्मार्टफोन में या फिर आप जिस भी डिवाइस में देखना चाहते हैं उसने भाई इसमें गूगल क्रोम को ओपन कर लेना है और बिहार अपना खाता की ऑफिशियल साइट को ओपन कर लेना है। अगर आप चाहे तो क्रोम ब्राउजर के अलावा और भी किसी ब्राउज़र का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • आप जैसे ही बिहार अपना खाता की ऑफिशियल वेबसाइट को ओपन करेंगे तो आपके सामने इस वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको जमाबंदी पंजी का एक ऑप्शन दिखाई देगा आपको उस ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • आप जैसे ही इस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा
  • जैसे ही आपके सामने एक नया प्लीज खुलकर सामने आएगा तो आपसे आपके अंचल को चयन करने का विकल्प मिलेगा आपको अपना अंचल का चुनाव कर लेना है।
  • उसके बाद आपसे और भी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी मांगी जाएगी जो आपको बिल्कुल सही सही भरनी है। अगर आप मांगी गई एक भी जानकारी गलती भरते हैं तो हो सकता है कि आप जमाबंदी पंजी नहीं देख पाए। इसलिए आपको मांगी गई सारी जानकारी को बिल्कुल सही सही भरना है।
  • सभी जानकारी को सही-सही भरने के बाद आपके सामने एक सर्च का विकल्प देगा आपको उस सर्च के विकल्प पर क्लिक कर देना।
  • आप जैसे ही सोच के विकल्प पर क्लिक करेंगे तो आपका जमाबंदी पंजी आपके सामने होगा और अगर आप चाहे तो आप इसका प्रिंट आउट भी निकाल सकते हैं।

ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन करने की प्रक्रिया

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है तो हम आपको नीचे कुछ आसान से स्टेप्स बताएंगे जिससे आपको यह पता चल जाएगा कि आप ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन कैसे कर सकते हैं और इस प्रक्रिया के माध्यम से आप घर बैठे कभी भी ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन करने में सफल होंगे।

  • हर बार की तरह इस बार भी आपको सबसे पहले अपने स्मार्टफोन में या फिर अपने लैपटॉप में क्रोम ब्राउज़र ओपन कर लेना है अगर आप चाहे तो किसी और ब्राउज़र को भी ओपन कर सकते हैं। इसके सर्च बॉक्स में आपको बिहार अपना खाता लिखकर सर्च कर देना है। और उसके बाद जो सांस पहली वेबसाइट आपके सामने दिखेगी आपको उसे ओपन कर लेना है। क्योंकि वह इसकी ऑफिशियल वेबसाइट है। कहने का मतलब ये है की आपको बिहार अपना खाता का ऑफिशियल वेबसाइट ओपन कर लेना है।
  • अब आपके सामने इस वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा और वहां पर आपको ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन करने का एक ऑप्शन मिल जाएगा आपको उस ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने इतना कुछ हो जाएगा और वहां पर आपको एक रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन मिलेगा आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • आप जैसे ही रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने एक फार्म खुल कर आ जायेगा।
  • इस आवेदन पत्र में आपसे आपकी कुछ पर्सनल जानकारी मांगी जाएंगी जैसे कि अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, पासवर्ड, एड्रेस आदि। आपको यह सभी जानकारी बिल्कुल सही सही भरना है। अगर आप एक भी जानकारी गलत भरते हैं तो हो सकता है कि आपका आवेदन पत्र निष्क्रिय कर दिया जाए।
  • इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी आपको बिल्कुल सही सही भरने के बाद नीचे रजिस्टर नाउ का ऑप्शन मिलेगा आपको इस ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • आप जैसे ही उस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपका फॉर्म सबमिट हो जाएगा और आप समझ जाइए कि आपने ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन की प्रक्रिया पूरी कर ली है।

निष्कर्ष

उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा और इसमें दी गई सारी जानकारी आपको अच्छे से समझ में आ गई होगी। आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हमने bihar bhumi jankari, bhulekh bihar, bihar land record, land record bihar, जमाबंदी बिहार सरकार, खाता खेसरा बिहार के बारे में अच्छी तरह जानकारी प्राप्त किया। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया और इसमें देखे सारी जानकारी अच्छी लगी तो आप इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों और अपने सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

Leave a comment

Your email address will not be published.

Exit mobile version